Read latest updates about "Asthama/अस्थमा" - Page 1

  • मेहंदी के चिकित्‍सीय उपयोग

    मेहंदी के चिकित्‍सीय उपयोग

    मेहंदी एक ऐसा कुदरती पौधा है, जिसके पत्‍तों, फूलों, बीजों एवं छालों में औषधीय गुण समाए होते हैं। त्‍योहारों और उत्‍सवों के पहले दिन सुहागिन स्‍त्रियों के लिये हथेलियों पर मेहंदी का श्रृंगार, सुंदरता एवं सौम्‍यता का प्रतीक माना जाता है। प्राचीन काल...

    2018-09-17 07:35:11.0
  • गुड़ के बड़े-बड़े गुण

    गुड़ के बड़े-बड़े गुण

    गुड़ गन्ने से तैयार एक शुद्ध, अपरिष्कृत पूरी चीनी है। यह खनिज और विटामिन है जो मूल रूप से गन्ने के रस में ही मौजूद है। यह प्राकृतिक होता है। इसे चीनी का शुद्धतम रूप माना जाता है। गुड़ का उपयोग मूलतः दक्षिण एशिया में किया जाता है। भारत के ग्रामीण...

    2018-09-17 06:58:00.0
  • गुणकारी तुलसी के फ़ायदे

    गुणकारी तुलसी के फ़ायदे

    व्यक्ति हमेशा गुणों की पूजा करता है। तुलसी हमेशा ही हमारे समाज में पूजनीय रही है। उसका कारण है तुलसी में निहित गुण। आरोग्य के लिए तुलसी अपने आप में बहुत से गुण समाए हुए है इसलिए इसे घर का वैद्यय् भी कहा जाता है। तुलसी मुख्यतः वात एवं कफ रोगों के लिए...

    2018-09-13 11:47:02.0
  • गिलोय के फायदे बेहतरीन औषधीय गुण

    गिलोय के फायदे बेहतरीन औषधीय गुण

    आयुर्वेद में एक महत्वपूर्ण स्थान है। इसके खास गुणों के कारण इसे अमृत के समान समझा जाता है और इसी कारण इसे अमृता भी कहा जाता है। प्राचीन काल से ही इन पत्तियों का उपयोग विभिन्न आयुर्वेदिक दवाइयों में एक खास तत्व के रुप में किया जाता है। गिलोय की...

    2018-09-10 11:30:45.0
  • अलसी के असरकारी नुस्खे

    अलसी के असरकारी नुस्खे

    अलसी में कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, केरोटिन, थायमिन, राइबोफ्रलेविन और नियासिन पाए जाते हैं। यह गनोरिया, नेफ्राइटिस, अस्थमा, सिस्टाइटिस, कैंसर, हृदय रोग, मधुमेह, कब्ज, बवासीर, एक्जिमा के उपचार में उपयोगी है।अलसी को धीमी आंच पर हल्का भून लें। फिर...

    2018-09-05 10:07:06.0
  • अनेक बीमारियों में कारगर है तुलसी

    अनेक बीमारियों में कारगर है तुलसी

    ज्यादातर हिंदू परिवारों में तुलसी की पूजा की जाती है। इसे सुख और कल्याण के तौर पर देखा जाता है लेकिन पौराणिक महत्व से अलग तुलसी एक जानी-मानी औषधि भी है, जिसका इस्तेमाल कई बीमारियों में किया जाता है। सर्दी-खांसी से लेकर कई बड़ी और भयंकर बीमारियों में...

    2018-08-27 09:19:11.0
  • घातक बीमारियों से बचने के लिए मछली खाएं

    घातक बीमारियों से बचने के लिए मछली खाएं

    मछली खाने के फायदे ही फायदे हैं क्योंकि यह एेसा नॉनवेज है जिस में फैट की मात्रा कम होती है और प्रोटीन, विटामिन-डी, ओमेगा -3 फैटी एसिड, आयोडीन एवं महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से भरी हुई है ! यह महत्वपूर्ण पोषक तत्व हमारे शरीर और दिमाग के लिए बहुत...

    2018-08-27 07:28:16.0
  • शिमलामिर्च के फ़ायदेमंद घरेलू नुस्खे

    शिमलामिर्च के फ़ायदेमंद घरेलू नुस्खे

    - जानकारों के अनुसार शिमला मिर्च की सब्जी खाने से वजन कम होता है। इसमें कार्बोहाइड्रेट और वसा कम मात्र में पाए जाते हैं। इसलिए यह शरीर को फिट रखने में मददगार होती है।- जो लोग अक्सर शिमला मिर्च का सेवन करते हैं, उन्हें कमर दर्द, सायटिका और जोड़ों के...

    2018-08-17 07:32:46.0
  • फिटकरी से शारीरिक समस्याओं को दूर किया जा सकता है

    फिटकरी से शारीरिक समस्याओं को दूर किया जा सकता है

    फिटकरी में एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। फिटकरी दो तरह की होती है, लाल और सफेद लेकिन ज्यादातर घरों में सफेद फिटकरी का ही इस्तेमाल किया जाता है। आयुर्वेद में भी इसके कई फायदों का उल्लेख किया गया है। ऐसा माना जाता है कि फिटकरी से शारीरिक समस्याओं...

    2018-08-16 07:53:34.0
  • घरेलू संजीवनी बूटी बादाम

    घरेलू संजीवनी बूटी बादाम

    वर्कलोड के कारण थकान होना, कमजोरी महसूस होना, हर छोटी बड़ी बात को भूल जाना, ये सब अच्छे लक्षण नहीं हैं। ऐसे लोगों को अक्सर बुखार और सर्दी, खांसी व स्नायुतंत्र से जुड़ी समस्याएं जल्दी घेर लेती हैं जिसके चलते उन्हें खासी परेशानी का सामना करना पड़ता...

    2018-08-11 08:44:42.0
  • पाना है रोगों से छुटकारा तो रोज शंख बजाना

    पाना है रोगों से छुटकारा तो रोज शंख बजाना

    शंख का महत्व धार्मिक दृष्टि से ही नहीं, वैज्ञानिक रूप से भी है। वैज्ञानिकों का मानना है कि इसके प्रभाव से सूर्य की हानिकारक किरणें बाधक होती हैं। इसलिए सुबह और शाम शंखध्वनिकरने का विधान सार्थक है। सनातन धर्म की कई ऐसी बातें हैं, जो न केवल आध्यात्मिक...

    2018-08-11 06:27:39.0
  • अस्थमा के रोगी इन उपायों को जरूर अपनाएं

    अस्थमा के रोगी इन उपायों को जरूर अपनाएं

    अस्थमा (दमा) एक बार किसी को हो जाए तो जिंदगी भर रहता है। हां, वक्त पर इलाज और आगे जाकर ऐहतियात बरतने पर इसे काबू में किया जा सकता है। अस्थमा (दमा) सांस से जुड़ी बीमारी है, जिसमें मरीज को सांस लेने में तकलीफ होती है। इस बीमारी में सांस की नली में...

    2018-08-08 07:36:38.0
Share it
Top
To Top