Read latest updates about "Depression/अवसाद" - Page 1

  • चुस्त-दुरुस्त रहने के लिए खाएं चना

    चुस्त-दुरुस्त रहने के लिए खाएं चना

    कभी आपने एक घोड़े को देखा है, वो कितनी तेजी से भागता है और चुस्त-दुरुस्त रहता है जानते हैं उसका कारण क्या है घोड़ा सिर्फ चना खाता है। इसलिए अगर आप भी उसके जैसे फुर्तीले बनना चाहते हैं तो चने का सेवन नियमित रूप से करना शुरु कर दीजिए। बस एक मुट्ठी चना...

    2018-09-13 11:20:08.0
  • फूल गोभी के बेशकीमती लाभ

    फूल गोभी के बेशकीमती लाभ

    सभी सब्जियो मे गोभी की सब्जी को बहुत पसंद करते है। फूलगोभी की सब्जी खाने में बहुत स्वादिष्ट होती हैं। इसमें फाइबर, विटामिन, एंटीऑक्सीडेंट और मिनरल्स भरपूर मात्रा में पाया जाता है। फूलगोभी मैंगनीज, तांबा, लोहा, कैल्शियम और पोटेशियम जैसे खनिजों का एक...

    2018-09-05 08:45:38.0
  • गंभीर रोगों में रामबाण है कलौंजी

    गंभीर रोगों में रामबाण है कलौंजी

    नेत्र रोग और कमजोर नजर : रोज सोने से पहले पलकों ओर आंखों के आस-पास कलौंजी का तेल लगायें और एक बड़ी चम्मच तेल को एक कप गाजर के रस के साथ एक महीने तक लें। दस्त : एक बड़ी चम्मच कलौंजी के तेल को एक चम्मच दही के साथ दिन में तीन बार लें दस्त...

    2018-09-01 11:44:57.0
  • अनेक बीमारियों में कारगर है तुलसी

    अनेक बीमारियों में कारगर है तुलसी

    ज्यादातर हिंदू परिवारों में तुलसी की पूजा की जाती है। इसे सुख और कल्याण के तौर पर देखा जाता है लेकिन पौराणिक महत्व से अलग तुलसी एक जानी-मानी औषधि भी है, जिसका इस्तेमाल कई बीमारियों में किया जाता है। सर्दी-खांसी से लेकर कई बड़ी और भयंकर बीमारियों में...

    2018-08-27 09:19:11.0
  • घातक बीमारियों से बचने के लिए मछली खाएं

    घातक बीमारियों से बचने के लिए मछली खाएं

    मछली खाने के फायदे ही फायदे हैं क्योंकि यह एेसा नॉनवेज है जिस में फैट की मात्रा कम होती है और प्रोटीन, विटामिन-डी, ओमेगा -3 फैटी एसिड, आयोडीन एवं महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से भरी हुई है ! यह महत्वपूर्ण पोषक तत्व हमारे शरीर और दिमाग के लिए बहुत...

    2018-08-27 07:28:16.0
  • एक्यूप्रेशर पॉइंट के द्वारा सभी रोगों के इलाज सम्भव

    एक्यूप्रेशर पॉइंट के द्वारा सभी रोगों के इलाज सम्भव

    एक्युपंक्चर/एक्युप्रेशर का मतलब एक्यु चीनी भाषा का शब्द है, जिसका मतलब है पॉइंट, यानी अगर शरीर के कुछ खास पॉइंट्स पर सूई से पंक्चर (छेद) कर इलाज किया जाए तो एक्युपंक्चर कहलाता है और अगर उन्हीं पॉइंट्स पर हाथ से या किसी इक्युपमेंट से दबाव डाला जाए...

    2018-08-24 07:51:29.0
  • शिमलामिर्च के फ़ायदेमंद घरेलू नुस्खे

    शिमलामिर्च के फ़ायदेमंद घरेलू नुस्खे

    - जानकारों के अनुसार शिमला मिर्च की सब्जी खाने से वजन कम होता है। इसमें कार्बोहाइड्रेट और वसा कम मात्र में पाए जाते हैं। इसलिए यह शरीर को फिट रखने में मददगार होती है।- जो लोग अक्सर शिमला मिर्च का सेवन करते हैं, उन्हें कमर दर्द, सायटिका और जोड़ों के...

    2018-08-17 07:32:46.0
  • रोज सुबह कसरत करने से होने वाले ये फ़ायदे

    रोज सुबह कसरत करने से होने वाले ये फ़ायदे

    शरीर को अच्छे बनाएं रखने के लिए सुबह की एक्सरसाइज को सबसे अच्छा माना जाता है। रोज सुबह व्यायाम करने से हमारा शरीर तंदुरुस्त और सेहतमंद रहता है।व्यायाम करने से हमें सारा दिन ताजगी महसूस रहती है और हमारी मांसपेशियों को मजबूत बनाया जा सकता है। अगर हम...

    2018-08-17 06:10:31.0
  • घरेलू संजीवनी बूटी बादाम

    घरेलू संजीवनी बूटी बादाम

    वर्कलोड के कारण थकान होना, कमजोरी महसूस होना, हर छोटी बड़ी बात को भूल जाना, ये सब अच्छे लक्षण नहीं हैं। ऐसे लोगों को अक्सर बुखार और सर्दी, खांसी व स्नायुतंत्र से जुड़ी समस्याएं जल्दी घेर लेती हैं जिसके चलते उन्हें खासी परेशानी का सामना करना पड़ता...

    2018-08-11 08:44:42.0
  • मालिश से जिस्म बनता है सेहतमंद

    मालिश से जिस्म बनता है सेहतमंद

    - तनाव और डिप्रेशन को दूर करने के लिए एरोमाथैरेपी से मालिश करवाने से फायदा होता है। इसमें कई खास किस्म के तेलों का इस्तेमाल किया जाता है जो दिमाग को सुकून पहुंचाते हैं। मालिश करने से पहले आपको यह जान लेना बेहत जरूरी है कि कौन सा तेल मालिश के लिए...

    2018-07-30 06:43:19.0
  • जानिए चीनी के दुष्प्रभाव और इसके साइड इफेक्ट्स

    जानिए चीनी के दुष्प्रभाव और इसके साइड इफेक्ट्स

    एक आम-आदमी प्रतिदिन कम से कम 15 से 20 चम्मच चीनी खाता है और इस तरह से साल भर में काफी मात्र में चीनी खा लेता है। आज हम सब प्रतिदिन के खाने में केक, कुकीज, कैंडी, चॉकलेट, आइसक्रीम, पेस्ट्रीज जैसी कई ऐसी चीजें खाते हैं जिनमें भारी मात्र में चीनी मिली...

    2018-06-25 10:55:25.0
  • अवसाद के लक्षण

    अवसाद के लक्षण

    एक नए अध्ययन से खुलासा हुआ है कि जो युवा बिस्तर पर जल्दी चले जाते हैं उनके अवसादग्रस्त होने और उनमें आत्महत्या के विचार आने की संभावना कम होती है। दस बजे तक या इससे पहले सो जाने वाले किशोरों की अपेक्षा देर से सोने वालों के अवसादग्रस्त होने की 24...

    2018-06-09 06:01:45.0
Share it
Top
To Top