Read latest updates about "Eruption/फुंसी" - Page 1

  • मुनक्का औषधीय गुणों से भरपूर

    मुनक्का औषधीय गुणों से भरपूर

    आयुर्वेद में तो मुनक्का को औषधीय गुणों से भरपूरबताया गया है। इसकी प्रकृति या तासीर गर्म होती है। यह कई रोगों में दवाई के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। सर्दी-जुकाम होने पर सर्दी-जुकाम हो जाए तो रात को सोने से पहले दूध में 2-3 मुनक्के उबाल कर...

    2019-06-03 08:42:34.0
  • वरदान है तुलसी, जानिए तुलसी के बड़े फायदे

    वरदान है तुलसी, जानिए तुलसी के बड़े फायदे

    ज्यादातर हिंदू परिवारों में तुलसी की पूजा की जाती है। इसे सुख और कल्याण के तौर पर देखा जाता है लेकिन पौराणिक महत्व से अलग तुलसी एक जानी-मानी औषधि भी है, जिसका इस्तेमाल कई बीमारियों में किया जाता है। सर्दी-खांसी से लेकर कई बड़ी और भयंकर बीमारियों में...

    2019-05-23 11:45:44.0
  • जानिए खरबूजे के यह बेहतरीन लाभ

    जानिए खरबूजे के यह बेहतरीन लाभ

    गर्मी के मौसम में आने वाला स्वादिष्ट खरबूजा, स्वाद के साथ-साथ पानी और कई पोषक तत्वों का भी खजाना है, जो आपको सेहत के साथ-साथ सौंदर्य से जुड़े कई फायदे दे सकता है। खरबूजे के यह बेमिसाल फायदे : 1 खरबूजा शरीर में पानी की कमी की पूर्ति करता है साथ ही...

    2019-05-16 09:08:50.0
  • तेल मालिश के हैं इतने फायदे

    तेल मालिश के हैं इतने फायदे

    तेल मालिश करना एक आयुर्वेदिक प्रक्रिया है मालिश से हमारे पूरे शरीर में खून का दौरा बढ़ जाता है और पाचन शक्ति तेज हो जाती है, पेट साफ रहता है तथा आंते, दिल, फेफड़े और यकृत आदि शक्तिवान हो जाते है। इसके अलावा मालिश से शरीर के मृत कोशिकाएं शरीर से बाहर...

    2019-05-16 08:44:40.0
  • किशमिश का पोषण का महत्व

    किशमिश का पोषण का महत्व

    बच्चों के नाश्ते में किशमिश को शामिल करें। उन्हें रात को भिगोकर सुबह भी खाने को दे सकते हैं। किशमिश पौष्टिक, रोगनाशक भोजन है यह दिमाग के लिए भी फायदेमंद होती हैं ।दिमागी तरावट के लिए -हरी किशमिश के 40 दाने धोकर सौ ग्राम अर्क गुलाब में रात भर भिगोये...

    2019-05-07 08:38:37.0
  • खुजली के उपाय क्या और कैसे करें ?

    खुजली के उपाय क्या और कैसे करें ?

    खाज-खुजली :खाज एक चरम रोग है जो संक्रमण से एक दूसरे को लग जाते है । अन्य चर्म रोगों की भांति खाज भी शरीर की पूर्ण रूप से शारीरिक सफाई न होने के कारण होते है । त्वचा पर जमा मैल खाज-खुजली के कीटाणुओं के रहने के लिए अच्छा स्थान है । जो लोग प्रतिदिन...

    2019-04-22 06:09:50.0
  • फिटकरी एक फायदे अनेक

    फिटकरी एक फायदे अनेक

    - पनीर बनाने के लिए दूध को पिसी हुई फिटकरी डालकर फाड़ें । इस प्रकार बना हुआ पनीर अधिक स्वादिष्ट व मुलायम बनता है। - पशु पक्षी आदि को लगी चोट में फिटकरी फायदेमंद होती है। पतंग के मांझे से घायल पक्षी को लगी चोट फिटकरी घुले पानी से धोएँ। ये पानी उसे...

    2019-04-17 07:36:27.0
  • औषधीय गुणों की खान सरसों

    औषधीय गुणों की खान सरसों

    मसाले के रूप में प्रयुक्त होने वाला नन्हा-सा सरसों का दाना भी कई स्वास्थ्य संवर्धक, रोगनाशक गुणों से परिपूरित होता है। चमत्कारी औषधीय गुण युक्त सरसों का तेल हम प्रयोग में लाते हैं व मालिश करते हैं। सरसों का बीज, बीजों का तेल, नरम कोपलें, पत्ते, तना...

    2019-04-08 11:48:29.0
  • चंदन के लेप से कील-मुंहासों का उपचार

    चंदन के लेप से कील-मुंहासों का उपचार

    चेहरे पर चंदन का प्रयोग न केवल चमक बढ़ाकर आपकी खूबसूरती को निखार सकता है बल्कि इसके औषधीय गुणों की वजह से आपकी स्किन की क्वालिटी भी निखर सकती है। टीनएजर्स को होने वाली कील-मुंहासों की समस्या का छुटकारा भी चंदन के लेप के जरिए हो सकता है।चेहरे पर...

    2019-04-08 10:39:14.0
  • मौसम्बी जूस पीने के फायदे

    मौसम्बी जूस पीने के फायदे

    1) नियमित मौसम्बी जूस पीने से भूख बढ़ती है, रक्त शुद्ध होता है। पुरुषों में शुक्राणु की संख्या और क्वालिटी में वृद्धि होती है। 2) वजन घटाने और Blood pressure control के लिए मौसम्बी जूस के साथ एक गिलास हल्का गर्म पानी और शहद पीयें।5) शुगर के रोगी को...

    2019-04-08 09:06:37.0
  • नीम के असरकारी गुण

    नीम के असरकारी गुण

    नीम एक बहुत ही लाभदायक वनस्पति है जो कि हमारी आबोहवा के मुताबिक है। इसका स्वाद तो कड़वा होता है लेकिन इसके फायदे तो अनेक और बहुत प्रभावशाली हैं उनमें से कुछ नीचे दिए गए हैं :- नीम का लेप सभी प्रकार के चर्म रोगों के निवारण में लाभदायक है। - नीम की...

    2019-04-01 07:39:51.0
  • आयुर्वेद में नीम के प्रयोग

    आयुर्वेद में नीम के प्रयोग

    नीम से सभी परिचित हैं। भारत भर में यह वृक्ष सहज सुलभ है। आयुर्वेद में नीम के प्रयोग प्रचुर मात्र में मिलते हैं। इसका स्वभाव शीत वीर्य, लघुग्राही, पाक में कटु रसयुक्त, जठराग्नि को मंद करने वाली, वात तृषा, खांसी, ज्वर, अरुचि, कृमि, वृण, पित्त, कफ,...

    2019-02-28 07:14:28.0
Share it
Top
To Top