Read latest updates about "Eruption/फुंसी" - Page 1

  • बेमिसाल नीम के औषधीय गुण

    बेमिसाल नीम के औषधीय गुण

    नीम आयुर्वेद का एक महत्वपूर्ण भाग है। नीम का उपयोग अनेक रोगों व समस्याओं के निदान में किया जाता है। नीम का पेड़ अनेक गुणों से परिपूर्ण होता है। नीम के पेड़ के सभी भागों का अपना एक अलग महत्व होता है। नीम के फल और बीजों से तेल निकाला जाता है। इस तेल...

    2019-08-21 06:42:20.0
  • प्राण घातक बीमारियों की दवा है कलौंजी

    प्राण घातक बीमारियों की दवा है कलौंजी

    कलौंजी के बारे में कहा जाता है कि यह कलयुग की संजीवनी बूटी है। सही तरीके से यदि इसका सेवन किया जाए तो इससे भयानक से भयानक बीमारी ठीक हो सकती है। आज हम आपको उन बीमारियों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसमें कलौंजी का इस्तेमाल किया जा सकता है। साथ हम...

    2019-08-09 08:34:24.0
  • स्किन की हर समस्या का निजात मुल्तानी मिट्टी में

    स्किन की हर समस्या का निजात मुल्तानी मिट्टी में

    खूबसूरती को निखारने व संवारने के लिए मुल्तानी मिट्टी का उपयोग शुरू से ही होता आया है। दरअसल, इसमें कई ऐसी क्वॉलिटीज हैं, जिन्हें अगर आप जान लें, तो इसे और बेहतर तरीके से इस्तेमाल कर सकती हैं। स्किन को देती है शाइनिंग : मुल्तानी मिट्टी स्किन...

    2019-08-01 06:49:47.0
  • दूध से अधिक दही में कैल्शियम

    दूध से अधिक दही में कैल्शियम

    1) दही में दूध से अधिक कैल्शियम होता है। दही आसानी से पच भी जाता है, इसलिए शरीर में कैल्शियम की कमी हो तो दही खायें। कैल्सियम शरीर में हड्डी, दांत, नाखून आदि का विकास और संरक्षण करता है। 2) आयुर्वेद में दही के कई फायदे बताये गये हैं। दही शरीर में...

    2019-07-31 07:30:41.0
  • खाना खाने से पहले खा सकते हैं फल

    खाना खाने से पहले खा सकते हैं फल

    वैसे तो माना जाता है कि फलों के जूस के मुकाबले फल ज्यादा लाभकारी होते हैं। लेकिन ये पुख्ता तौर पर कहना ज़रा मुश्किल है। बेवक्त भूख लगने पर लोग फलों का जूस पीना पसंद करते हैं ये सोचकर कि इससे फायदा मिलेगा। फलों के जूस में फाइबर नहीं है तो ये आपके...

    2019-06-26 07:11:01.0
  • शहद के फायदे और उसके तरीके

    शहद के फायदे और उसके तरीके

    शहद के रोग निवारण गुणों पर निरंतर शोधकार्य चल रहे हैं। यह एक गुणकारी पदार्थ है, जो इंसान के लिए प्राकृतिक उपहार से कम नहीं है। शहद में कई पोषक तत्व पाए जाते हैं, जिनमें ग्लूकोज, विटामिन, अमीनो अल्म, खजिन व शर्करा आदि शामिल हैं। ये तत्व मिलकर शहद को...

    2019-06-24 09:08:54.0
  • मुनक्का औषधीय गुणों से भरपूर

    मुनक्का औषधीय गुणों से भरपूर

    आयुर्वेद में तो मुनक्का को औषधीय गुणों से भरपूरबताया गया है। इसकी प्रकृति या तासीर गर्म होती है। यह कई रोगों में दवाई के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। सर्दी-जुकाम होने पर सर्दी-जुकाम हो जाए तो रात को सोने से पहले दूध में 2-3 मुनक्के उबाल कर...

    2019-06-03 08:42:34.0
  • वरदान है तुलसी, जानिए तुलसी के बड़े फायदे

    वरदान है तुलसी, जानिए तुलसी के बड़े फायदे

    ज्यादातर हिंदू परिवारों में तुलसी की पूजा की जाती है। इसे सुख और कल्याण के तौर पर देखा जाता है लेकिन पौराणिक महत्व से अलग तुलसी एक जानी-मानी औषधि भी है, जिसका इस्तेमाल कई बीमारियों में किया जाता है। सर्दी-खांसी से लेकर कई बड़ी और भयंकर बीमारियों में...

    2019-05-23 11:45:44.0
  • जानिए खरबूजे के यह बेहतरीन लाभ

    जानिए खरबूजे के यह बेहतरीन लाभ

    गर्मी के मौसम में आने वाला स्वादिष्ट खरबूजा, स्वाद के साथ-साथ पानी और कई पोषक तत्वों का भी खजाना है, जो आपको सेहत के साथ-साथ सौंदर्य से जुड़े कई फायदे दे सकता है। खरबूजे के यह बेमिसाल फायदे : 1 खरबूजा शरीर में पानी की कमी की पूर्ति करता है साथ ही...

    2019-05-16 09:08:50.0
  • तेल मालिश के हैं इतने फायदे

    तेल मालिश के हैं इतने फायदे

    तेल मालिश करना एक आयुर्वेदिक प्रक्रिया है मालिश से हमारे पूरे शरीर में खून का दौरा बढ़ जाता है और पाचन शक्ति तेज हो जाती है, पेट साफ रहता है तथा आंते, दिल, फेफड़े और यकृत आदि शक्तिवान हो जाते है। इसके अलावा मालिश से शरीर के मृत कोशिकाएं शरीर से बाहर...

    2019-05-16 08:44:40.0
  • किशमिश का पोषण का महत्व

    किशमिश का पोषण का महत्व

    बच्चों के नाश्ते में किशमिश को शामिल करें। उन्हें रात को भिगोकर सुबह भी खाने को दे सकते हैं। किशमिश पौष्टिक, रोगनाशक भोजन है यह दिमाग के लिए भी फायदेमंद होती हैं ।दिमागी तरावट के लिए -हरी किशमिश के 40 दाने धोकर सौ ग्राम अर्क गुलाब में रात भर भिगोये...

    2019-05-07 08:38:37.0
  • खुजली के उपाय क्या और कैसे करें ?

    खुजली के उपाय क्या और कैसे करें ?

    खाज-खुजली :खाज एक चरम रोग है जो संक्रमण से एक दूसरे को लग जाते है । अन्य चर्म रोगों की भांति खाज भी शरीर की पूर्ण रूप से शारीरिक सफाई न होने के कारण होते है । त्वचा पर जमा मैल खाज-खुजली के कीटाणुओं के रहने के लिए अच्छा स्थान है । जो लोग प्रतिदिन...

    2019-04-22 06:09:50.0
Share it
Top
To Top