Read latest updates about "Gas/गैस" - Page 1

  • जानिए बड़ी इलायची से होने वाले बड़े फायदे

    जानिए बड़ी इलायची से होने वाले बड़े फायदे

    वास्तव में यह एक सुगंधित मसाला है, जो कि दो तरह की होती है- बडी इलायची और हरी इलायची। इन दोनों के बडी इलायची सबसे ज्यादा लोकप्रिय है। अपने विशिष्ट स्वाद और जबर्दस्त सुगंध के कारण इसका इस्तेमाल खाना बनाने में किया जाता है। बड़ी इलायची को काली इलायची,...

    2019-01-17 10:54:05.0
  • आयुर्वेदिक इलाज के लिए गिलोय बहुत ही लाभदायक

    आयुर्वेदिक इलाज के लिए गिलोय बहुत ही लाभदायक

    गिलोय की पत्तियों और तनों से सत्व निकालकर इस्तेमाल में लाया जाता है। गिलोय को आयुर्वेद में गर्म तासीर का माना जाता है। यह तैलीय होने के साथ साथ स्वाद में कडवा और हल्की झनझनाहट लाने वाला होता है। गिलोय के गुणों की संख्या काफी बड़ी है। इसमें सूजन कम...

    2019-01-17 08:48:30.0
  • काली मिर्च खाने से करें कई बीमारियों का इलाज घर बैठे!

    काली मिर्च खाने से करें कई बीमारियों का इलाज घर बैठे!

    आमतौर पर रसोई में खाने का स्वाद बढ़ाने और मसालों के रूप में इस्तेमाल होने वाली काली मिर्च खाने के कई फायदे हैं। आमतौर पर यह अवधारणा है कि काली मिर्च का ज्यादा सेवन आपकी सेहत को नुकसान दे सकता है। इसलिए जरूरी है कि आप काली मिर्च का सेवन करने में...

    2019-01-16 13:18:51.0
  • कई रोगों में लाभकारी है नीबू

    कई रोगों में लाभकारी है नीबू

    - नीबू में मौजूद लवण रक्त की अम्लता को दूर कर उसे क्षारीय कर देते हैं और खून को शुद्ध करने में सहायक होते हैं।- नीबू पेट के विकारों एवं अपच को दूर करता है। - नीबू पर काला नमक बुरक कर सेवन करने से जी मिचलाना बंद हो जाता है। - नीबू स्कर्वी रोग की...

    2019-01-14 13:07:45.0
  • एक्युप्रेशर योग भी जानें

    एक्युप्रेशर योग भी जानें

    एक्युपंक्चर पॉइंट्स के साथ मिलाकर योग किया जाए तो एक्यु योग कहलाता है। जैसे कि एक्युपंक्चर या प्रेशर से शुगर के मरीज के स्प्लीन (तिल्ली) या पैंक्रियाज पॉइंट को जगाया जाता है और साथ में शलभासन कराया जाता है, जोकि स्प्लीन या पैंक्रियाज के लिए फायदेमंद...

    2019-01-14 12:39:31.0
  • संतरे की रसीली बातें

    संतरे की रसीली बातें

    - एक सामान्य आकार के संतरे में पाए जाने वाले तत्वों का विवरण इस प्रकार है। प्रोटीन-0-25 ग्राम, कार्बोज 2-69 ग्राम, वसा 0-03 ग्राम, कैल्शियम 0-045 प्रतिशत, फास्फोरस 0-021 प्रतिशत, लोहा 5-2 प्रतिशत, तांबा 0-8 प्रतिशत।- संतरे की सबसे बड़ी विशेषता यह...

    2019-01-07 12:09:42.0
  • सिरके के घरेलू इलाज

    सिरके के घरेलू इलाज

    - किसी ने धतूरा खा लिया हो, तो उसे अंगूर का सिरका दूध में मिलाकर पिलाने से काफी लाभ होता है।- एक प्याले में सेव का सिरका, एक कप शहद और छिले हुए लहसुन की आठ गांठे मिलाओं, इन सबको तेज चलने वाली मिक्सी में डाल कर एक मिनट के लिए चला दो और घोल तैयार...

    2019-01-02 07:04:44.0
  • आयुर्वेदिक नुस्खों से करें उपचार

    आयुर्वेदिक नुस्खों से करें उपचार

    - एसिडिटी होने पर मुलेठी का चूर्ण या काढ़ा बनाकर उसका सेवन करना चाहिए। इससे एसिडिटी में फायदा होता है।- नीम की छाल का चूर्ण या रात में भिगोकर रखी छाल का पानी छानकर पीना चाहिए। ऐसा करने से अम्लपित्त या एसिडिटी ठीक हो जाती है। - एसिडिटी होने पर...

    2018-12-26 11:49:26.0
  • साधारण  नीबू,  असाधारण  गुण

    साधारण नीबू, असाधारण गुण

    आज अधिकांश व्यक्ति छोटी-छोटी बीमारियों के निदान के लिए बडे-बडे डॉक्टरों, अस्पतालों के पीछे हजारों रूपये बर्बाद कर देते हैं। फायदे के बदले कभी-कभी हानियां भी उठानी पडती हैं। प्रकृति ने हमें देसी घरेलू औषधियां दी हैं जो सहजता से हमारे पास उपलब्ध हैं।...

    2018-12-26 10:07:46.0
  • भिंडी के आश्चर्यजनक लाभ

    भिंडी के आश्चर्यजनक लाभ

    कैंसर - भिंडी को अपनी थाली में शामिल करके आप कैंसर को दूर भगा सकते हैं। खासतौर से कोलन कैंसर को दूर करने में भिंडी बहुत फायदेमंद है। यह आंतों में मौजूद विषैले तत्वों को बाहर निकालने में मदद करती है, जिससे आंतें स्वस्थ रहती हैं और बेहतर तरीके से...

    2018-12-24 10:55:27.0
  • इमली पाचन तंत्र के लिए है लाभदायी

    इमली पाचन तंत्र के लिए है लाभदायी

    भारत में काफी पुराने समय से इमली का इस्तेमाल किया जाता रहा है। हालांकि इस फल का मूल देश अफ्रीका है, पर एशियाई देशों से जब यह फल फारस और अरब देशों में गया तो इसे इंडियन डेट कहा गया, जिसकी वजह थी कि यह फल देखने में खजूर के सूखे गूदे की तरह लगता था।...

    2018-12-17 09:44:30.0
  • औषधीय गुणों की भरमार है मुनक्का

    औषधीय गुणों की भरमार है मुनक्का

    दिखने में छोटी मुनक्का बहुत ही गुणकारी है। इसमें वसा की मात्र नहीं के बराबर होती है। यह हल्की, सुपाच्य, नरम और स्वाद से मधुर होती है। इसे बड़ी दाख (रेजिन) के नाम से भी जाना जाता है। साधारण दाख और मुनक्का में इतना फर्क है कि यह बीज वाली होती है और...

    2018-11-26 10:44:36.0
Share it
Top
To Top