Read latest updates about "Itching/खुजली" - Page 1

  • आयुर्वेद चिकित्सा में चन्दन का इस्तेमाल

    आयुर्वेद चिकित्सा में चन्दन का इस्तेमाल

    चंदन को सदियों से सौंदर्य को निखारने के लिए प्रयोग में लाया जा रहा है। चन्दन के एंटीबायोटिक, एंटीसेप्टिक और औषधीय गुण न केवल त्वचा की समस्याओं को दूर करने में असरदार है बल्कि स्वास्थ्य के लिए भी इस के बहुत से फायदे है। आइये जानिए चन्दन में मौजूद कुछ...

    2019-03-13 07:37:17.0
  • आयुर्वेद में नीम के प्रयोग

    आयुर्वेद में नीम के प्रयोग

    नीम से सभी परिचित हैं। भारत भर में यह वृक्ष सहज सुलभ है। आयुर्वेद में नीम के प्रयोग प्रचुर मात्र में मिलते हैं। इसका स्वभाव शीत वीर्य, लघुग्राही, पाक में कटु रसयुक्त, जठराग्नि को मंद करने वाली, वात तृषा, खांसी, ज्वर, अरुचि, कृमि, वृण, पित्त, कफ,...

    2019-02-28 07:14:28.0
  • मुल्तानी मिट्टी के असाधारण सौंदर्य प्रयोग

    मुल्तानी मिट्टी के असाधारण सौंदर्य प्रयोग

    हमारे शरीर के पांच तत्वों में एक है मिट्टी। मुल्तानी मिट्टी प्रयोग के लिए श्रेष्ठ मानी जाती है। अगर इसे कूट कर हल्दी के साथ मिलाकर प्रयोग किया जाए तो झाइयां व मुहांसे दूर होते हैं और त्वचा कांतिमय बन जाती हैै। रोज-रोज साबुन लगाने से शरीर के मित्र...

    2019-02-20 13:32:44.0
  • फिटकरी के हैरान कर देने वाले फायदे

    फिटकरी के हैरान कर देने वाले फायदे

    फिटकरी बहते हुए खून को रोकने के काम आती है। अधिकांश लोग इसे ही फिटकरी का सबसे बड़ा फायदा मानते हैं। फिटकरी के फायदे यहीं तक सीमित नहीं हैं। फिटकरी केवल बहते हुए खून को रोकने के काम ही नहीं आती बल्कि इसके और भी कई हैरान कर देने वाले फायदे हैं। फिटकरी...

    2019-02-12 13:22:11.0
  • चेहरे के दाग-धब्बे दूर करने में कारगर है बेसन

    चेहरे के दाग-धब्बे दूर करने में कारगर है बेसन

    हमारी त्वचा का दिन भर तेज धूप, धूलमिट्टी और अन्य कई तरह के प्रदूषण से सामना होता है, जिस की वजह से उस का नैचुरल ग्लो फीका पड़ने लगता है, चेहरे पर काले दागधब्बे व मुंहासे नजर आने लगते हैं। ऐसे में जरूरी है कि त्वचा को अच्छी तरह साफ किया जाए ताकि वह...

    2019-02-12 12:45:52.0
  • कई रोगों की गुणकारी औषधि है अनानास

    कई रोगों की गुणकारी औषधि है अनानास

    अनानास एक फल होने के साथ-साथ कई रोगों के निवारण में गुणकारी औषधि भी है। अनानास के औषधीय गुण, प्रयोग तथा स्वास्थ्य लाभ को जाने इस लेख से : अनानास एक स्वादिष्ट फल है। यह देश के दक्षिणी एवं पूर्वी प्रांतों में बहुतायत में पाया जाता है। अनानास के पत्ते...

    2019-02-01 08:39:45.0
  • बड़े काम का पुदीना

    बड़े काम का पुदीना

    - सलाद में इसका उपयोग स्वास्थ्यवर्धक है। अगर इसकी पत्तियों को रोज चबाया जाए तो दांत रोग, पायरिया, मसूढ़ों से रक्त निकलता आदि रोग दूर हो जाते हैं।- एक गिलास पानी में पुदीने की 4-5 पत्तियां उबालें! ठंडा होने पर फ्रिज में रख दें। इस पानी से कुल्ला करने...

    2019-01-30 06:56:28.0
  • इंस्टेंट एनर्जी देता है शहद

    इंस्टेंट एनर्जी देता है 'शहद'

    - जब कभी कमजोरी महसूस हो, ऐसे में ताजे पानी में एक या दो चम्मच अपनी आवश्यकतानुसार शहद मिलाकर पीने से शरीर को बहुत राहत मिलती है। इस ड्रिंक को एनर्जी ड्रिंक कहा जाता है। मधुमेह रोगी शहद का सेवन बहुत कम कर सकते हैं।- अगर गले में खराश हो तो पिसी काली...

    2019-01-28 12:42:20.0
  • अजवाइन रोज खाओ, बीमारी से छुटकारा पाओ

    अजवाइन रोज खाओ, बीमारी से छुटकारा पाओ

    आमतौर पर अजवाइन का इस्‍तेमाल नमकीन पूरी, मठ्ठी, नमक पारे और पराठों का स्‍वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है। लेकिन अजवाइन के छोटे-छोटे बीजों में ऐसे गुणकारी तत्‍व मौजूद हैं, जिनसे आप अब तक अंजान हैं। इनडाइजेशन या अपच होने पर अकसर मां हमें गरम पानी और...

    2019-01-21 12:23:51.0
  • मेहंदी के चिकित्‍सीय उपयोग

    मेहंदी के चिकित्‍सीय उपयोग

    1. मेहंदी के पत्‍तों में ऐसे तत्‍व पाये जाते हैं, जिनसे खाघ पदार्थों को दूषित करने वाले कीटाणु नष्‍ट हो जाते हैं, इसलिये हाथों में मेहंदी लगाने से कुप्रभावयुक्‍त शक्‍ति भोज्‍य पदार्थों पर अपना कोई प्रभाव नहीं डालती है। 2. उच्‍च रक्‍तचाप के रोगियों...

    2019-01-21 12:04:32.0
  • आयुर्वेदिक इलाज के लिए गिलोय बहुत ही लाभदायक

    आयुर्वेदिक इलाज के लिए गिलोय बहुत ही लाभदायक

    गिलोय की पत्तियों और तनों से सत्व निकालकर इस्तेमाल में लाया जाता है। गिलोय को आयुर्वेद में गर्म तासीर का माना जाता है। यह तैलीय होने के साथ साथ स्वाद में कडवा और हल्की झनझनाहट लाने वाला होता है। गिलोय के गुणों की संख्या काफी बड़ी है। इसमें सूजन कम...

    2019-01-17 08:48:30.0
  • कुछ दिनों में फ़ोड़े-फ़ुंसियों का करें काम तमाम

    कुछ दिनों में फ़ोड़े-फ़ुंसियों का करें काम तमाम

    थोड़ी सी साफ रूई पानी में भिगों दें, फिर हथेलियों से दबाकर पानी निकाल दें। तवे पर थोड़ा सा सरसों का तेल डालें और उसमें इस रूई को पकायें। फिर उतारकर सहन कर सकने योग्य गर्म रह जाए तब इसे फोड़े पर रखकर पट्टी बांध दें। ऐसी पट्टी सुबह-शाम बांधने से एक दो...

    2019-01-17 06:37:42.0
Share it
Top
To Top