Read latest updates about "Itching/खुजली" - Page 1

  • बेमिसाल नीम के औषधीय गुण

    बेमिसाल नीम के औषधीय गुण

    नीम आयुर्वेद का एक महत्वपूर्ण भाग है। नीम का उपयोग अनेक रोगों व समस्याओं के निदान में किया जाता है। नीम का पेड़ अनेक गुणों से परिपूर्ण होता है। नीम के पेड़ के सभी भागों का अपना एक अलग महत्व होता है। नीम के फल और बीजों से तेल निकाला जाता है। इस तेल...

    2019-08-21 06:42:20.0
  • सेहत को दुरुस्त करती है चॉकलेट

    सेहत को दुरुस्त करती है चॉकलेट

    चॉकलेट थिओब्रोमा कोको बीजों से तैयार होने वाली एक तरह की मिठाई होती है जो भूरे रंग की होती है लेकिन कुछ मिल्क चॉकलेट्स का रंग सफ़ेद भी होता है। अगर आप चॉकलेट खाने के शौकीन है तो डार्क चॉकलेट को अपनाइये जो आपकी सेहत को बेहतर बनाने में इस तरह मदद करती...

    2019-08-19 08:50:09.0
  • आम की गुठली भी है बेहद गुणकारी

    आम की गुठली भी है बेहद गुणकारी

    आयुर्वेद में आम एक ऐसा फल है जिसे काफी ज्‍यादा पसंद किया गया है। आम के पेड़ का हर हिस्‍सा काफी उपयोगी होता है। आज हम आपको आम की गुठली के स्‍वास्‍थ्‍य वर्धक फायदे बताएंगे, जिसे आपने कभी नहीं सुने होंगे। आम फलों का राजा यूं ही नहीं कहा गया है। मीठे आम...

    2019-08-17 07:50:42.0
  • प्राण घातक बीमारियों की दवा है कलौंजी

    प्राण घातक बीमारियों की दवा है कलौंजी

    कलौंजी के बारे में कहा जाता है कि यह कलयुग की संजीवनी बूटी है। सही तरीके से यदि इसका सेवन किया जाए तो इससे भयानक से भयानक बीमारी ठीक हो सकती है। आज हम आपको उन बीमारियों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसमें कलौंजी का इस्तेमाल किया जा सकता है। साथ हम...

    2019-08-09 08:34:24.0
  • स्किन की हर समस्या का निजात मुल्तानी मिट्टी में

    स्किन की हर समस्या का निजात मुल्तानी मिट्टी में

    खूबसूरती को निखारने व संवारने के लिए मुल्तानी मिट्टी का उपयोग शुरू से ही होता आया है। दरअसल, इसमें कई ऐसी क्वॉलिटीज हैं, जिन्हें अगर आप जान लें, तो इसे और बेहतर तरीके से इस्तेमाल कर सकती हैं। स्किन को देती है शाइनिंग : मुल्तानी मिट्टी स्किन...

    2019-08-01 06:49:47.0
  • दूध से अधिक दही में कैल्शियम

    दूध से अधिक दही में कैल्शियम

    1) दही में दूध से अधिक कैल्शियम होता है। दही आसानी से पच भी जाता है, इसलिए शरीर में कैल्शियम की कमी हो तो दही खायें। कैल्सियम शरीर में हड्डी, दांत, नाखून आदि का विकास और संरक्षण करता है। 2) आयुर्वेद में दही के कई फायदे बताये गये हैं। दही शरीर में...

    2019-07-31 07:30:41.0
  • मुलहठी के 6 अनमोल गुण

    मुलहठी के 6 अनमोल गुण

    औषधि‍ और माउथफ्रेशनर के रूप में उपयोग की जाने वाली मुलहठी अपने आप में कई लाभप्रद गुणों को समेटे हुए हैं। आइए आपको भी बताते हैं, इसके अनमोल गुणों के बारे में, जो आपके लिए बेहद उपयोग साबित होंगे :- 1 अगर आप सूखी खांसी या गले की समस्याओं से परेशान...

    2019-07-15 07:09:22.0
  • शहद के फायदे और उसके तरीके

    शहद के फायदे और उसके तरीके

    शहद के रोग निवारण गुणों पर निरंतर शोधकार्य चल रहे हैं। यह एक गुणकारी पदार्थ है, जो इंसान के लिए प्राकृतिक उपहार से कम नहीं है। शहद में कई पोषक तत्व पाए जाते हैं, जिनमें ग्लूकोज, विटामिन, अमीनो अल्म, खजिन व शर्करा आदि शामिल हैं। ये तत्व मिलकर शहद को...

    2019-06-24 09:08:54.0
  • जानिए खरबूजे के यह बेहतरीन लाभ

    जानिए खरबूजे के यह बेहतरीन लाभ

    गर्मी के मौसम में आने वाला स्वादिष्ट खरबूजा, स्वाद के साथ-साथ पानी और कई पोषक तत्वों का भी खजाना है, जो आपको सेहत के साथ-साथ सौंदर्य से जुड़े कई फायदे दे सकता है। खरबूजे के यह बेमिसाल फायदे : 1 खरबूजा शरीर में पानी की कमी की पूर्ति करता है साथ ही...

    2019-05-16 09:08:50.0
  • किशमिश का पोषण का महत्व

    किशमिश का पोषण का महत्व

    बच्चों के नाश्ते में किशमिश को शामिल करें। उन्हें रात को भिगोकर सुबह भी खाने को दे सकते हैं। किशमिश पौष्टिक, रोगनाशक भोजन है यह दिमाग के लिए भी फायदेमंद होती हैं ।दिमागी तरावट के लिए -हरी किशमिश के 40 दाने धोकर सौ ग्राम अर्क गुलाब में रात भर भिगोये...

    2019-05-07 08:38:37.0
  • अदरक, लहसुन, तुलसी, नीम, काली मिर्च से करें उपचार

    अदरक, लहसुन, तुलसी, नीम, काली मिर्च से करें उपचार

    आयुर्वेद के हिसाब से आपका पाचन तंत्र ठीक होगा तो शरीर में त्रिदोष- वात, पित्त और कफ कम होंगे, आव नहीं बनेगा, पाचन प्रक्रिया सुचारु चलेगी और खांसी-जुकाम, सांस लेने में दिक्कत नहीं होगी। वातावरण में फैले प्रदूषण का सामना करने और प्रतिरोधक क्षमता को...

    2019-05-07 07:23:02.0
  • खुजली के उपाय क्या और कैसे करें ?

    खुजली के उपाय क्या और कैसे करें ?

    खाज-खुजली :खाज एक चरम रोग है जो संक्रमण से एक दूसरे को लग जाते है । अन्य चर्म रोगों की भांति खाज भी शरीर की पूर्ण रूप से शारीरिक सफाई न होने के कारण होते है । त्वचा पर जमा मैल खाज-खुजली के कीटाणुओं के रहने के लिए अच्छा स्थान है । जो लोग प्रतिदिन...

    2019-04-22 06:09:50.0
Share it
Top
To Top