Read latest updates about "Kidney/किडनी" - Page 2

  • अजवाइन रोज खाओ, बीमारी से छुटकारा पाओ

    अजवाइन रोज खाओ, बीमारी से छुटकारा पाओ

    आमतौर पर अजवाइन का इस्‍तेमाल नमकीन पूरी, मठ्ठी, नमक पारे और पराठों का स्‍वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है। लेकिन अजवाइन के छोटे-छोटे बीजों में ऐसे गुणकारी तत्‍व मौजूद हैं, जिनसे आप अब तक अंजान हैं। इनडाइजेशन या अपच होने पर अकसर मां हमें गरम पानी और...

    2019-01-21 12:23:51.0
  • जानें संतरा कितना गुणकारी है हमारे स्वस्थ के लिए

    जानें संतरा कितना गुणकारी है हमारे स्वस्थ के लिए

    संतरा एक स्वास्थ्यवर्धक फल है। इसमें प्रचुर मात्र में विटामिन सी होता है। लोहा और पोटेशियम भी काफी होता है। संतरे की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इसमें विद्यमान फ्रूक्टोज, डेक्स्ट्रोज, खनिज एवं विटामिन शरीर में पहुंचते ही ऊर्जा देना प्रारंभ कर देते...

    2019-01-21 09:42:23.0
  • जानिए बड़ी इलायची से होने वाले बड़े फायदे

    जानिए बड़ी इलायची से होने वाले बड़े फायदे

    वास्तव में यह एक सुगंधित मसाला है, जो कि दो तरह की होती है- बडी इलायची और हरी इलायची। इन दोनों के बडी इलायची सबसे ज्यादा लोकप्रिय है। अपने विशिष्ट स्वाद और जबर्दस्त सुगंध के कारण इसका इस्तेमाल खाना बनाने में किया जाता है। बड़ी इलायची को काली इलायची,...

    2019-01-17 10:54:05.0
  • आयुर्वेदिक इलाज के लिए गिलोय बहुत ही लाभदायक

    आयुर्वेदिक इलाज के लिए गिलोय बहुत ही लाभदायक

    गिलोय की पत्तियों और तनों से सत्व निकालकर इस्तेमाल में लाया जाता है। गिलोय को आयुर्वेद में गर्म तासीर का माना जाता है। यह तैलीय होने के साथ साथ स्वाद में कडवा और हल्की झनझनाहट लाने वाला होता है। गिलोय के गुणों की संख्या काफी बड़ी है। इसमें सूजन कम...

    2019-01-17 08:48:30.0
  • एक्युप्रेशर योग भी जानें

    एक्युप्रेशर योग भी जानें

    एक्युपंक्चर पॉइंट्स के साथ मिलाकर योग किया जाए तो एक्यु योग कहलाता है। जैसे कि एक्युपंक्चर या प्रेशर से शुगर के मरीज के स्प्लीन (तिल्ली) या पैंक्रियाज पॉइंट को जगाया जाता है और साथ में शलभासन कराया जाता है, जोकि स्प्लीन या पैंक्रियाज के लिए फायदेमंद...

    2019-01-14 12:39:31.0
  • सेतुबंधासन के फायदे

    सेतुबंधासन के फायदे

    योगासन हमारे पूरे शरीर को प्रभावित करते हैं, इसलिए हम योग के जिस आसन को करें इस बात का ध्यान रहे कि ये हमारे किस अंग को प्रभावित कर रहे हैं। सेतुबंधासन भी योग का ऐसा आसन है जो पूरे शरीर को प्रभावित करता है। यह लीवर को मजबूत बनाता है, पैंक्रियाज की...

    2019-01-10 11:27:09.0
  • गुणों से भरा है तेजपत्‍ता, जानिये स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

    गुणों से भरा है तेजपत्‍ता, जानिये स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

    भारतीय व्‍यंजनों में महक और सुगंध के लिए तेजपत्‍ते का उपयोग आमतौर पर किया जाता है। लोगों को लगता है कि इससे सब्‍जी में अच्‍छी खुशबु आती है लेकिन इस पत्‍ते के कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ भी होते हैं। तेजपत्‍ते के तेल में कई प्रकार के औषधीय गुण होते हैं जो कि...

    2019-01-08 08:49:48.0
  • संतरे की रसीली बातें

    संतरे की रसीली बातें

    - एक सामान्य आकार के संतरे में पाए जाने वाले तत्वों का विवरण इस प्रकार है। प्रोटीन-0-25 ग्राम, कार्बोज 2-69 ग्राम, वसा 0-03 ग्राम, कैल्शियम 0-045 प्रतिशत, फास्फोरस 0-021 प्रतिशत, लोहा 5-2 प्रतिशत, तांबा 0-8 प्रतिशत।- संतरे की सबसे बड़ी विशेषता यह...

    2019-01-07 12:09:42.0
  • प्रोटीन से भरपूर बादाम

    प्रोटीन से भरपूर बादाम

    बादाम सूखे मेवों में राजा कहा जाता है। कई प्रयोगों से सिद्ध हुआ है कि बादाम स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है। इसे रोजना खाना चाहिए। सर्दी के मौसम में बादाम शरीर को ऊर्जा देते हैं। गर्मियों में सौंफ, मिश्री, कालीमिर्च के साथ इसका सेवन ठंडक देता है,...

    2019-01-02 07:44:18.0
  • महत्वपूर्ण एक्यूप्रेशर पॉइंट्स

    महत्वपूर्ण एक्यूप्रेशर पॉइंट्स

    एक्यूप्रेशर विधि में शरीर में कुछ ख़ास बिंदुओ को दबाया जाता है जिससे रोग का इलाज होता है। हमारे शरीर में हजारो नसे, धमनियाँ, मांसपेशियाँ, स्नायु, हड्डियाँ होती है। इसने मिलकर ही हमारा शरीर बना होता है। कई बार कुछ पॉइंट्स पर खून का संचरण सही से नही हो...

    2018-12-14 13:56:42.0
  • डायलिसिस की जरुरत को समझें

    डायलिसिस की जरुरत को समझें

    डायलिसिस खून साफ करने का डॉक्टरी तरीका है। इस प्रक्रिया को तब अपनाया जाता है जब किडनी सही से काम नहीं कर रही होती है। किडनी से जुड़े रोगों, लंबे समय से डायबिटीज के रोगी, हाई ब्लड प्रेशर जैसी स्थितियों में कई बार डायलिसिस की आवश्यकता पड़ती है। स्वस्थ...

    2018-12-14 13:40:17.0
  • बुढापा दूर रखने के उपाय

    बुढापा दूर रखने के उपाय

    आंवलो के मौसम मे नित्य प्रातः काल व्यायाम या वॉक करने के बाद दो पके हुए हरे आंवलो को चबा कर खाने से या आंवलो का रस दो चम्‍मच ओर दो चम्‍मच शहद मिला कर पीए। जब आंवलो का मौसम ना रहे तब सूखे आंवलो को कूट पीस कर कपड़े से छान कर बनाया गया आंवलो का चूर्ण...

    2018-11-22 07:03:06.0
Share it
Top
To Top