फ्लावर स्पा मसाज थेरेपी

फ्लावर स्पा मसाज थेरेपी

मिल्क प्रोटीन स्क्रब :

बॉडी को पहले लाइम क्लींजर से क्लीन करके रोज, वालटन, विटामिन ई व बारगामोट ऑयल से मसाज किया जाता है। उसके बाद 20 मिनट तक ओरेंज प्रोटीन स्क्रब बॉडी पर लगा कर, उसे खीरे के जूस में रब करके हटाया जाता है। अंत में वालनट में बरगामोट ऑयल की कुछ बूंदें बॉडी पर लगाई जाती है। यह ट्रीटमेंट पिगमेंटेशन व ब्लेमिश स्किन पर प्रभावशाली है। साथ ही यह स्किन को सॉफ्रटनेस और फ्रेशनेस भी देता है।

अरोमा ऑयल मसाज :

इसमें रोजमेरी ऑयल, ऑरेंज ऑयल, लेवेडर ऑयल, तिल का तेल एवं ब्लैकपेपर ऑयल प्रयोग में लाया जाता है। पूरी बॉडी को क्लींजर व गरम तौलिए से क्लीन करके ऑयल लगाया जाता है। फिर एक्यूप्रेशर मसाज होता है। प्रेसिग, रोलिग, अपवर्ड व डाउनवर्ड स्टैप्स में 40 मिट तक मसाज देने के बाद 5 से 7 मिनट तक स्टीम दी जाती है। इससे स्किन की मॉइश्चर और शाइन के साथ हर तरह के पेन से रिलीफ मिलता है।

चॉकलेट मसाज :

चॉकलेट में सेरोटोनिन और फैनेथाइलामाइन जैसे फीलगुड केमिकल पाए जाते हैं। इस मसाज से शरीर में फैटी और टाक्सिन तत्व बाहर निकल आते हैं। पूरी बॉडी को गरम तौलिए से क्लीन कर 15 मिनट तक चॉकलेट स्क्रब लगाया जाता है। फिर उस पर खीरे के रस से मसाज कर गरम तौलिए से पोंछा जाता है।


Share it
Top
To Top