सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद है मक्खन

सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद है मक्खन

कई लोगों का मानना है कि बटर में कैलोरिज काफी ज्यादा होती है और रेगुलर यदि ब्रेड बटर लिया जाय तो इससे वजन बढ़ने की संभावना काफी ज्यादा बढ़ जाती है। बटर बढ़ने वाले बच्चों के लिये फायदेमंद होती है। यदि इसे बड़े लोग भी कम मात्रा में खाएं तो यह उनकी सेहत के लिए फायदेमंद होता है, क्योंकि इसमें तमाम जरूरी विटामिंस और एंटीआक्सीडेंट्स मौजूद होते हैं। इसके अलावा गाजर के बाद बटर ही एक ऐसी चीज है जिसमें विटामिन ए भरपूर मात्रा में पाया जाता है। पीले बटर की अपेक्षा सफेद बटर में कम कैलोरीज होता है। यदि इसकी कम मात्रा ली जाय तो यह फायदेमंद होता है। जिन लोगों को लीवर संबंधी समस्या होती है, उनके लिए बटर में पका खाना सुपाच्य होता है। घर में बना मक्खन यलो मक्खन की तुलना में ज्यादा पौष्टिक होता है। क्योंकि यह दूध से सीधे निकाला जाता है। आइये जानते हैं बटर यानी की मक्खन के सेहतभरे गुणों के बारे में-

बटर खा कर मूड बने मस्त इसमें सेलीनियम भी होता है जो कि नर्वस सिस्टरम को खुशी पहुंचाता है। तभी तो सूप के एक कटोरे में बडे़ से मक्खन का टुकड़ा आपको खुश कर देता है। थायरायड के लिये अच्छाे इसमें खूब सारा विटामिन ए होता है जो कि थायरायड गंथी के काम-काज के लिये अच्छा होता है। तो अगर आप बटर को उसमें मौजूद चर्बी की वजह से नहीं खाते तो आपका वजन थायरायड के काम करने की वजह से बढ सकता है। बच्चों के दिमागी विकास के लिये इसमें मौजूद कोलेस्ट्रॉसल और वसा बच्चोंत के दिमागी विकास के लिये अच्छा माना जाता है। बच्चों की आंखों की रौशनी बनी रहे इसलिये उन्हेंग दूध और मक्खन खिलाना चाहिये।

एनर्जी बढाए इसको खा कर तुरंत एनर्जी मिल जाती है। बटर बाद में जा कर फैट में परिवर्तित हो जाता है जो कि जरुरत पड़ने पर एनर्जी का रूप लेता है। एंटीऑक्सी्डेंट इसमें एंटीऑक्सीडडेंट की मात्रा अधिक होने की वजह से यह कैंसर या ट्यूमर से रक्षा करता है। इसके अलावा यह त्व चा की फ्री रैडिकल्सह से सुरक्षा करते हैं, तभी तो शिया बटर को एंटी एजिंग क्रीम के लिये प्रयोग किया जाता है। त्वसचा में चमक लाए बटर चेहरे को कोमल बनाता है। कोकोआ बटर या शिया बटर को चेहरे पर लगाने से चेहरे पर निखार आता है। नींद लाए अच्छीट बटर में सिलीनियम होता है जो कि अच्छी नींद लाने के लिये कारगर है। प्रजनन क्षमता बढाए यह महिलाओं तथा पुरुषों दोनों में ही प्रजनन क्षमता बढाने के लिये जाना जाता है। यह शरीर में गर्मी बढाता है तथा मेल और फीमेल हार्मोन को बढाने का कार्य करता है। विटामिन डी का भंडार हमारे शरीर में कैल्शिनयम को सोखने के लिये विटामिन डी की जरुरत होती है। बटर में विटामिन डी पाया जाता है।


Share it
Top
To Top