फिटकरी के हैरान कर देने वाले फायदे

फिटकरी के हैरान कर देने वाले फायदे

फिटकरी बहते हुए खून को रोकने के काम आती है। अधिकांश लोग इसे ही फिटकरी का सबसे बड़ा फायदा मानते हैं। फिटकरी के फायदे यहीं तक सीमित नहीं हैं। फिटकरी केवल बहते हुए खून को रोकने के काम ही नहीं आती बल्कि इसके और भी कई हैरान कर देने वाले फायदे हैं। फिटकरी के फायदे जानकर निश्चित ही आप आश्चर्यचकित हो जाएँगे।

बहते हुए खून को रोकने में

यदि चोट लग जाने की वजह से आपके शरीर से खून निकल रहा हो और बंद नहीं हो रहा हो तो बहते हुए खून को रोकने के लिए आप फिटकरी का प्रयोग कर सकते हैं। फिटकरी को पानी में डुबाकर खून निकलने वाली जगह पर रगड़ने से खून का निकलना बंद हो जाता है।

आपको बता दें यह मात्र एक घरेलू उपाय है। यह उपाय हल्की चोट लग जाने पर ही असरकारी है। यदि चोट बहुत ज्यादा हो तो तुरन्त डॉक्टर से सम्पर्क करना चाहिए।

पानी को साफ़ करने में

फिटकरी का दूसरा सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह पानी को शुद्ध करने के काम आती है। फिटकरी का उपयोग पानी को शुद्ध करने में भी काफी अधिक किया जाता है। फिटकरी को गंदे पानी में डालने से पानी की गन्दगी नीचे बैठ जाती है और हमें साफ़ पानी प्राप्त होता है। पानी की गन्दगी को दूर करने का यह बहुत ही आसान और सस्ता उपाय है।

मुँह की बदबू को दूर करने में

अगर आप अपनी साँसों की बदबू से परेशान हैं तो आप फिटकरी का प्रयोग माउथफ्रेशनर के रूप में भी कर सकते हैं। यह एक प्राकृतिक माउथफ्रेशनर है। फिटकरी मिले हुए पानी से कुल्ला करने से आपको साँसों की बदबू से निजात मिलती है। यह मुँह के बदबू पैदा करने वाले बैक्टीरिया को मार देती है। फिटकरी मिले पानी से कुल्ला करते समय ध्यान रखें कि यह पानी निगलें नहीं, नहीं तो आपके लिए समस्या उत्पन्न हो सकती है।

जूँ को मारने में

फिटकरी का उपयोग जूँ को मारने तथा सिर की सफाई में भी किया जाता है। यह जूँ को मारने का काफी प्राचीन उपाय है जिसका प्रयोग आपने दादी या नानी को करते हुए देखा होगा। अगर आप अपने सिर में जूँ या खुजली से परेशान हैं तो एक बार फिटकरी मिले पानी से अपना सिर धुल लें। आपको जूँ से छुटकारा मिल जाएगा तथा सिर की खुजली भी दूर हो जाएगी।

तन की दुर्गन्ध को दूर करने में

गर्मियों में अक्सर हम सभी पसीने की गंध से परेशान रहते हैं। इसका सस्ता और प्राकृतिक उपाय है फिटकरी। आप फिटकरी का प्रयोग डियोडेरेन्ट के रूप में कर सकते हैं। इसके साथ-साथ अगर आप अपने नहाने के पानी में फिटकरी का पाउडर डालकर नहाते हैं तो इससे भी आपको तन की दुर्गन्ध से निजात मिल जाएगी।

चेहरे के लिए

फिटकरी में एंटी-बैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं जिसके कारण यह मुँहासों को दूर करने में भी लाभदायक है। फिटकरी के पाउडर को पानी में घोल लीजिए। अब इस घोल को अपने चेहरे के मुँहासों पर लगाइए। लगभग 20 मिनट के बाद अपने चेहरे को साफ़ पानी से धुल लीजिए। कुछ ही दिनों में मुहांसे ख़त्म होना शुरू हो जाएँगे।

झुर्रियों के लिए

चेहरे पर झुर्रियों को देखकर हर कोई परेशान हो जाता है। कोई नहीं चाहता है कि उसके चेहरे पर झुर्रियाँ नज़र आएँ। इसके लिए वह महँगी से महँगी क्रीम का प्रयोग करने से भी नहीं हिचकिचाता है। ये क्रीम काफी महँगी होती हैं तथा इनके दूरगामी परिणाम भी काफी खतरनाक होते हैं। ऐसे में आप फिटकरी से अपने चेहरे की झुर्रियों को दूर कर सकते हैं। इसके लिए फिटकरी के एक टुकड़े को पानी में डुबोकर अपने चेहरे पर लगाइए। कुछ ही दिनों में आपको इसका असर नज़र आना शुरू हो जाएगा।

बर्र, मधुमक्खी के काटने में

अगर आपको बर्र, मधुमक्खी, बिच्छू या अन्य किसी जहरीले कीड़े ने काट लिया हो तो फिटकरी के पाउडर को पानी में डालकर एक गाढ़ा घोल बना लें। अब इस घोल को प्रभावित अंग पर लगाएँ। इस घोल को लगाने से दर्द में राहत मिलती है तथा विष का असर भी खत्म होता है।

दाँतों के लिए

फिटकरी दाँतों के लिए भी काफी लाभकारी है। अगर आप मोती जैसे सफ़ेद और मजबूत दाँतों की चाहत रखते हैं तो फिटकरी से यह भी सम्भव है। फिटकरी जहाँ दांत-दर्द को दूर करने में कारगर है वहीँ मसूड़ों को मजबूत करने में भी इसका कोई जोड़ नहीं है। अगर आप अपने दाँतों और मसूड़ों को मजबूत बनाना चाहते हैं तो 20 ग्राम फिटकरी के पाउडर में 10 ग्राम सेंधा नमक मिलाकर अपने दाँतों और मसूड़ों की नियमित रूप से मालिश करें। इस उपाय को करने से मसूड़ों से खून आना भी बंद हो जाएगा।

खाँसी को दूर करने में

फिटकरी खाँसी को दूर करने में भी बहुत असरदार है। फिटकरी के द्वारा पुरानी से पुरानी खाँसी को दूर किया जा सकता है। अगर आप खाँसी से परेशान हैं तो थोड़ी सी फिटकरी (लगभग आधा ग्राम) को शहद में मिलाकर चाटें। कुछ ही दिनों में आपकी खाँसी दूर हो जाएगी। इस उपाय को करने से पहले अपने नजदीकी चिकित्सक से परामर्श जरूर ले लें।


Share it
Top
To Top